Home Breaking News बलात्कार के आरोप में फरार चल रहे निलंबित,इनामी टीआई संदीप अयाची को...

बलात्कार के आरोप में फरार चल रहे निलंबित,इनामी टीआई संदीप अयाची को हाईकोर्ट से झटका,गिरफ्तारी की तलवार लटकी

बता दें कि हाईकोर्ट ने अपराध को गंभीर प्रवृत्ति का मानते हुए आरोपी को अग्रिम जमानत का लाभ देने से इंकार कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि आरोपी इससे पहले भी पीड़िता को अपने पद की धमकी दे चुका है।

जबलपुर/मध्यप्रदेश।

जबलपुर के बहुचर्चित थाना प्रभारी संदीप अयाची पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। टीआई को हाईकोर्ट से भी झटका लगा है।
दरअसल,महिला आरक्षक के साथ बलात्कार के आरोप में फरार चल रहे टीआई संदीप अचायी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज हो गई है। हाईकोर्ट ने अपराध को गंभीर प्रवृत्ति का मानते हुए आरोपी को अग्रिम जमानत का लाभ देने से इंकार कर दिया है। रेप के मामले में फरार टीआई संदीप अयाची की गिरफ्तारी पर पुलिस अधीक्षक ने इनाम भी घोषित किया है।

पुलिस अधीक्षक ने इनाम घोषित किया

अग्रिम जमानत याचिका में क्या कहा गया है??

टीआई संदीप अयाची की ओर से हाईकोर्ट में लगाई गई अग्रिम जमानत याचिका में कहा गया था कि महिला और उनके बीच शारिरिक संबंध आपसी सहमति से बने थे।शिकायतकर्ता बालिग थी और सहमत्ति से संबंध बनने के कारण बलात्कार का अपराध नहीं बनता है। इस मामले में अग्रिम जमानत याचिका का विरोध करते हुए सरकार की तरफ से कहा गया कि आरोपी टीआई की गिरफ्तारी पर 5 हजार रूपये का इनाम घोषित है। आरोपी इससे पहले भी पीड़िता को अपने पद की धमकी दे चुका है।दलीलों को सुनने के बाद हाईकोर्ट की जस्टिस संजय द्विवेदी की सिंगल बेंच ने टीआई अयाची की अग्रिम जमानत के आवेदन को खारिज कर दिया है। सरकार की तरफ से उप सरकारी वकील आलोक अग्निहोत्री उपस्थित हुए।

क्या था पूरा मामला

टीआई संदीप संदीप अयाची

प्राप्त जानकारी के अनुसार,संदीप अयाची पर 3 अगस्त 2022 को जबलपुर के महिला थाने में दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज हुआ था। एक महिला कॉन्स्टेबल ने फरार टीआई संदीप अयाची पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। FIR दर्ज होने के बाद से आरोपी टीआई फरार थे।
पीड़ित महिला पुलिस आरक्षक ने पुलिस को बताया कि संदीप अयाची वर्ष 2018 में जब जबलपुर के गोरखपुर थाने में थाना प्रभारी के पद पर पदस्थ थे उस दौरान उन्होंने उससे दोस्ती की। संदीप अयाची का तबादला पनागर हुआ तो महिला आरक्षक की अक्टूबर 2018 में पनागर में ड्यूटी लगाई गई थी। इस दौरान थाना प्रभारी संदीप उसे अपने साथ एक होटल ले गया और जहां पर शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। महिला नव आरक्षक ने संदीप अयाची के खिलाफ कटनी एसपी से भी शिकायत की थी, पर बाद मे शिकायत को वापस ले लिया। करीब एक साल पहले जबलपुर कोतवाली पुलिस के सामने टीआई संदीप अयाची को पिता तुल्य बताने वाली महिला आरक्षक ने एक बार फिर संदीप अयाची पर दुष्कर्म के आरोप लगाए हैं। महिला की शिकायत पर महिला थाने में मामला दर्ज किया गया। अब एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने टीआई संदीप के खिलाफ 5 हज़ार का इनाम घोषित किया है।

शादी की बात से मुकरा टीआई

टीआई संदीप संदीप अयाची

पांच साल पहले टीआई संदीप अयाची गोरखपुर थाने में पदस्थ थे। इसी दौरान पुलिस लाइन में पदस्थ 25 वर्षीय महिला आरक्षक की भी गोरखपुर थाने में तैनाती की गई थी। एक थाने में रहते हुए महिला आरक्षक की टीआई से अच्छी जान पहचान हो गई। टीआई जब भी किसी कार्रवाई के लिए निकलते थे तो महिला आरक्षक उनके साथ मौजूद रहती थी। इसी कारण दोनों में नजदीकियां हो गईं। लेकिन कुछ दिनों बाद टीआई का तबादला पनागर थाने में कर दिया गया।

टीआई संदीप संदीप अयाची

इसके बाद महिला आरक्षक की ड्यूटी पनागर मे लगी।इसी दौरान थाना प्रभारी संदीप अयाची उसे बहला फुसलाकर सोनिया पैलेस होटल में ले गया और शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। इसके बाद टीआई लगातार उसका दैहिक शोषण करता रहा। महिला आरक्षक जब शादी करने के लिए कहती तो टीआई उसकी बात को टाल देते थे। 2022 में शादी करने के लिए राजी नहीं होने पर महिला आरक्षक ने बीते माह जनवरी में जबलपुर के कोतवाली थाने पहुँचकर काफी हंगामा मचाया था।

महिला आरक्षक के हंगामे के बाद,मांग में सिंदूर भरा

टीआई संदीप संदीप अयाची

महिला आरक्षक के हंगामे के बाद टीआई संदीप अयाची ने झांसा देकर उसकी माँग में सिंदूर भर दिया था। तब कहीं जाकर महिला आरक्षक शांत हुई थी, लेकिन इस घटना के बाद टीआई ने महिला आरक्षक से पल्ला झाड़ना शुरू कर दिया। महिला आरक्षक के विरोध जताने के बाद अयाची उसे प्रयागराज ले गए, जहाँ फिर से उसकी माँग में सिंदूर भरकर विवाह कर लिया, लेकिन पत्नी के रूप में उसे साथ में नहीं रखा। अयाची के इस बर्ताव से परेशान होकर वह पुलिस अधिकारियों के पास पहुँची थी। तब यह बात वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में आई और तत्कालीन कटनी एसपी ने उन्हें बरही थाने से हटाकर कटनी लाइन में भेज दिया था।

पुलिस द्वारा इनाम भी घोषित किया जा चुका है,वीडियो देखें

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रतिष्ठित “जीवाजी क्लब” में पुलिस की रेड,जुआ खेलते 11 धन्नासेठ गिरफ्तार,लाखों की नकदी बरामद

बता दें कि जीवाजी राव सिंधिया के नाम पर 100 साल से ज्यादा पुराने सबसे प्रतिष्ठित क्लब में जुए का ठिकाना चलता मिला। शहर...

मध्यप्रदेश में पुलिस निरीक्षकों के तबादले आदेश जारी,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में तबादलों का दौर लगातार जारी है इसी तारतम्य में पुलिस मुख्यालय ने बुधवार को इंस्पेक्टर्स के तबादले की सूची जारी की है।...

दिनदहाड़े व्यापारी से हुई 35 लाख की लूट का खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के गृहनगर में दिनदहाड़े गल्ला कारोबारी से 35 लाख की लूट ने पुलिस को हिला दिया। लुटेरों को ढूंढने...

मध्यप्रदेश पुलिस में DSP स्तर के अधिकारियों के थोकबंद तबादले,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश शासन ने राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों के थोकबंद तबादले किए हैं। गृह विभाग ने एक बड़ी तबादला सूची जारी की जिसमें उप...
error: Content is protected !!