Home Breaking News लोकायुक्त के जाल में फंसा प्रधान आरक्षक,20 हजार की रिश्वत लेते रंगे...

लोकायुक्त के जाल में फंसा प्रधान आरक्षक,20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

बता दें कि पुलिस जवान शिक्षा विभाग में पदस्थ बाबू (क्लर्क) जौरा, मुरैना में पदस्थ विकास जाटव निवासी मालनपुर को फर्जी केस में फंसाने की धमकी दे रहे थे। केस से बचाने के लिए 20 हजार की रिश्वत मांग रहे थे। बाबू ने लोकायुक्त में शिकायत की थी।


भिंड/मध्यप्रदेश।

मध्यप्रदेश में रिश्वतखोर अधिकारी और कर्मचारियों पर लोकायुक्त की दनादन कार्रवाई जारी हैं बावजूद इसके रिश्वतखोरी कम होने का नाम नहीं ले रही है।
दरअसल,भिंड के मालनपुर थाने में 20 हज़ार की रिश्वत ले रहे प्रधान आरक्षक को ग्वालियर की लोकायुक्त टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। धारा 307 के एक मामले में यह रिश्वत ली जा रही थी। प्रधान आरक्षक का नाम मनीष पचौरी बताया गया है।

क्या है पूरा मामला

प्राप्त जानकारी के अनुसार,भिंड के मालनपुर इलाके में हनुमान चौराहे पर रहने वाले विकास जाटव ने लोकायुक्त ग्वालियर में इस बात की शिकायत की थी कि मालनपुर थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी द्वारा उससे 20 हज़ार रुपये की रिश्वत की मांग की जा रही है। शिकायत मिलने पर लोकायुक्त ने तुरंत इस पर एक्शन लिया और प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी को पकड़ने की योजना बना ली।
लोकायुक्त टीम ने योजना बनाकर फरियादी विकास जाटव को 20 हज़ार दिए। विकास जाटव योजना के तहत मालनपुर थाने पहुंचा और रिश्वत के रुपए प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी को देने लगा। मनीष पचौरी ने जैसे ही रुपए लिए तो वहां मौजूद लोकायुक्त की टीम ने तुरंत मनीष पचौरी को अपनी हिरासत में ले लिया और कार्रवाई शुरू कर दी।
विकास जाटव ने जानकारी देते हुए बताया कि धारा 307 के मामले में बचाने के एवज में प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी ने उससे रिश्वत की मांग की थी। मेमो से नाम हटाने के बदले यह रिश्वत ली जा रही थी।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रेम प्रसंग के चलते भोपाल के TI हाकम सिंह पवार ने इंदौर में किया सुसाइड:​​​​​​​महिला SI को भी गोली मारी

बता दें कि भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ टीआई हाकम सिंह पंवार ने इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में खुद को गोली...

ईओडब्ल्यू (EOW) ने पटवारी काे 20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोचा,काली कमाई की जांच में जुटी टीम

मुरैना/मध्यप्रदेश। रिश्वतखोर अधिकारी और कर्मचारियों पर लगातार भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसियां कार्रवाई कर रही हैं लेकिन घूसखोरी कम होने का नाम नहीं ले रही है। दरअसल,ग्वालियर आर्थिक...

स्पा सेंटर की आड़ में सेक्स रैकेट:SSP ऑफिस से चंद कदम की दूरी पर,स्पा सेंटर की आड़ में देह व्यापार का धंधा

बता दें कि पिछले पखवाड़े क्राइम ब्रांच, मुरार और सिरोल थाना पुलिस ने एक आयुर्वेद स्पा के नाम पर देह व्यापार कराने वाले सेंटर...

जिलाध्यक्ष की मदिरा पर चर्चा:कांग्रेस ने ग्वालियर भाजपा जिलाध्यक्ष का शराब पीते वीडियों शेयर किया

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री उमाभारती प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी की मुहिम छेड़े हुए हैं ,मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शराब को अच्छा...
error: Content is protected !!