Home Breaking News भाजपा नेता को थाने के सामने पीटा,फिर कराई छेड़छाड़ की एफआईआर

भाजपा नेता को थाने के सामने पीटा,फिर कराई छेड़छाड़ की एफआईआर

बता दें कि मुरार थाना पुलिस ने इस मामले में काफी समझदारी से काम लिया है। पुलिस ने भाजपा नेता की भाभी इन्द्रा पत्नी विनोद जैन निवासी घासमंडी की शिकायत पर हमलावर संजू दीक्षित, विवेक, प्रिदर्शी दीक्षित, तपन, रवि के खिलाफ घर में घुसकर मारपीट करने, जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज किया है। इसके अलावा दूसरे पक्ष की ओर से एक युवक की पत्नी की शिकायत पर भाजपा नेता अशोक जैन व दो अन्य साथियों पर घर में घुसकर छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया है।


ग्वालियर/मध्यप्रदेश।

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में भाजपा नेता अशोक जैन को पड़ोसी दोस्त के घर एक विवाद को सुलझाने के लिए जाना महंगा पड़ गया। दोस्त के भाई और भतीजों ने भाजपा नेता पर हमला कर दिया। उनके घर में घुसकर मारपीट की। यही नहीं, जब भाजपा नेता थाना पहुंचे, तो बाहर घेरकर भी मारपीट की। यहां तक तो सब ठीक है, लेकिन जब भाजपा नेता थाने के अंदर पहुंचे, तो पता लगा कि उन पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया गया है।
केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के नजदीकी एवं भाजपा नेता अशोक जैन को दोस्ती महंगी पड़ गई। उनके दोस्त के परिवार में संपत्ति को लेकर मंगलवार को विवाद हुआ जो पुलिस थाने पहुँच गया। थाने में FIR होने पर शक की सुई भाजपा नेता अशोक जैन पर घूमी तो उनके घर पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया, अशोक जैन की भाभी को घायल कर दिया। भाभी का इलाज कराकर शिकायत करने जब वे मुरार पुलिस थाने पहुंचे तो दोस्त के परिवार के लोग भी थाने पहुँच गए और अशोक जैन के साथ मारपीट कर दी, दोनों पक्ष आपस में थाने में ही भिड़ गए और काफी देर तक हंगामा करते रहे। बाद में दोनों पक्षों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ लेकिन एक पक्ष की महिलाओं ने अशोक जैन पर छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया है।
बता दें कि अशोक जैन पहले कांग्रेस में थे। कट्‌टर सिंधिया समर्थक माने जाते थे, लेकिन विधानसभा चुनाव से पहले ही केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के प्रभाव के चलते उन्होंने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में सदस्यता ली थी। अशोक जैन को भाजपा में सदस्यता भी केन्द्रीय मंत्री के नेतृत्व में मिली थी।

क्या है पूरा मामला

    थाने में काले ट्रैक सूट में बैठे भाजपा नेता

प्राप्त जानकारी के अनुसार,मुरार के घासमंडी निवासी दीक्षित परिवार में संपत्ति का पुराना विवाद है। मंगलवार को दिन में परिवार में विवाद हुआ जिसके बाद आदर्श दीक्षित ने अपने भाई मंटू और विवेक के खिलाफ मुरार थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी। चूँकि आदर्श दीक्षित केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के नजदीकी और भाजपा नेता अशोक जैन का दोस्त है तो दीक्षित परिवार को शक हुआ कि एफआईआर अशोक जैन ने करवाई है।
एफआईआर से बौखलाए दीक्षित परिवार के लोगों ने अशोक जैन के घर के बाहर हंगामा कर दिया।
पुलिस थाने (Gwalior Police) में बहुत देर तक हंगामा होता रहा। पुलिस के सामने दीक्षित के परिवार हंगामा करते रहे। परिवार की महिलाओं ने अशोक जैन पर घर में घुसकर छेड़खानी करने के गंभीर आरोप लगाए और एफआईआर की मांग करने लगे। जब बहुत देर तक थाने के अंदर हंगामा होता रहा तो पुलिस अधिकारियों ने फटकार लगाईं और सबके खिलाफ कड़ा एक्शन लेने की बात की तब वे थाने के बाहर गए,बाद में दीक्षित परिवार की महिलाओं की शिकायत पर पुलिस ने भाजपा नेता अशोक जैन के खिलाफ धारा 354 सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया।

इनका कहना

अशोक जैन ने को बताया कि दीक्षित परिवार के लोगों में मेरे घर पर हमला किया। उनका पारिवारिक संपत्ति विवाद है। पहले आदर्श दीक्षित के घर पर मारपीट कर दी। जब एफआईआर हुई तो उसके बाद वे मेरे घर पर आ गए और मेरी भाभी के सिर पर कट्टे का बट मार दिया। जब एमएलसी कराने के बाद मैं रात को संजय दीक्षित, प्रियदर्शी दीक्षित,रवि दीक्षित,तपन दीक्षित,विवेक दीक्षित के खिलाफ एफआईआर कराने मुरार थाने पहुंचा तो इन लोगों ने मेरे ऊपर थाने के बाहर हमला कर दिया।

पुलिस का कहना

मामले में TI मुरार शैलेन्द्र भार्गव का कहना है कि दोनों पक्षों ने शिकायत करते हुए एक दूसरे पर हमला करने का आरोप लगाया है। रात तक थाने के बाहर दोनों पक्ष खड़े हुए थे। दोनों पक्षों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। जांच की जा रही है, जो तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

वीडियो देखें

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सनकी थाना प्रभारी के हौसलें बुलंद फिर सुर्खियों में,महिला नायब तहसीलदार को,केस वापस लेने के लिए धमकाया

बता दें कि मध्यप्रदेश की भोपाल पुलिस ने महिला नायब तहसीलदार की एफआईआर दर्ज करने में 7 दिन लगा दिए। सस्पेंड इंस्पेक्टर शिशिर दास...

मध्यप्रदेश के आईएएस (IAS) अधिकारियों के विभागों में बदलाव,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने राज्य के आईएएस (IAS) अधिकारियों के विभागों में बदलाव कर उन्हे अन्य विभाग में पदस्थ किया है।...

राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों के तबादले,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में तबादलों का दौर जारी है आज गुरुवार को गृह विभाग ने राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों की तबादला (Transfer) सूची जारी की...

थाना प्रभारी महिला आरक्षक की लव स्टोरी में हंगामा,SP से कहा! TI से शादी नहीं हुई तो जान दे दूंगी

बता दें कि टीआई संदीप अयाची का पूर्व में भी विवादों से नाता रहा है। इसके पूर्व नरसिंहपुर में उनके खिलाफ रेप का प्रकरण...
error: Content is protected !!