Home News Headlines आज किसान आंदोलन का तीसरा दिन,फल-सब्जियों के दाम बढ़े

आज किसान आंदोलन का तीसरा दिन,फल-सब्जियों के दाम बढ़े

“बता दें कि किसान आंदोलन इन चरणों में सम्पन्न होगा

 1 से 4 जून तक गांवों में युवाओं के सांस्कृतिक कार्यक्रम और पुरानी खेल गतिविधियां होंगी

5 जून को धिक्कार दिवस मनाएंगे। गांवों में ही चौपालें होंगी, जिसमें किसान विरोधी फैसलों पर चर्चा की जाएगी।

6 जून को पिछले साल मारे गए किसानों को शहीद मानते हुए श्रद्धांजलि सभा होंगी।

8 जून को असहयोग दिवस मनाया जाएगा

10 जून को भारत बंद रहेगा।



नई दिल्ली……..


किसान आंदोलन के दूसरे दिन शनिवार को मध्य प्रदेश में 9 केस दर्ज हुए और 16 किसानों को गिरफ्तार किया गया। केंद्र सरकार की खेती से जुड़ी नीतियों का विरोध कर रहे आठ राज्यों के किसान 10 दिनों की हड़ताल पर हैं रविवार को आंदोलन का तीसरा दिन है किसान आंदोलन का दिल्ली-एनसीआर समेत कई राज्यों पर असर पड़ रहा है। प्रदर्शन की वजह से दिल्ली और इससे सटे राज्यों में दूध, सब्जियों और फलों के रेट बढ़ रहे हैं। जिससे सब्जी बेचनेवाले और खरीदनेवाले दोनों ही परेशान हैं।

आने वाले दिनों में सब्जियों-फलों के दाम और बढ़ने की आशंका है।


क्या है किसानों की माँग……..


किसानों की मांग है कि उनका कर्ज माफ हो और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया जाए तभी वे हड़ताल खत्म करेंगे। किसानों के हड़ताल का असर रोजमर्रा की जरूरतों की चीजों पर पड़ रहा है। प्रदर्शन के पहले दिन शुक्रवार को कई शहरों में सब्जियों-फलों के दाम मौजूदा भाव से 10-20 रुपये बढ़ गए अचानक दाम बढ़ने से आम आदमी खासकर मध्यम वर्ग को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने सब्जियों, फलों, दूध समेत जरूरी चीजों की सप्लाई बंद कर दी है। इससे मार्केट में उत्पादन कम पहुंच रहा है सप्लाई कम है और डिमांड ज्यादा ऐसे में फलों और सब्जियों के दाम बढ़ना लाजिमी हैं। शनिवार को प्रदर्शन के दौरान कई इलाकों में किसानों ने सड़कों पर दूध बहा दिया। सब्जियों और फलों को ट्रकों से कुचल दिया था।


किसान आंदोलन अलग-अलग राज्यों में एक नजर से…..


हरियाणा और मध्यप्रदेश से……


बता दें कि किसानों का प्रदर्शन मुख्य तौर पर हरियाणा में हो रहा है, वहां के 6800 गांव इसमें हिस्सा ले रहे हैं. वहीं, मध्यप्रदेश के मंदसौर, नीमच, रतलाम सहित कई जिलों में प्रदर्शन को देखते हुए धारा 144 लागू कर दी गई है। महाराष्ट्र का पुणे और पंजाब राज्य भी इस आंदोलन से अछूता नहीं है।


पंजाब से……..


पंजाब के फरीदकोट में किसानों ने सब्‍जी-फल और दूध की सप्लाई रोक दी है। किसानों ने सब्जियां ले जा रहे ट्रकों का चक्का जाम कर दिया। इस वजह से कई शहरों में सब्जी और दूध की सप्लाई पूरी तरह ठप हो गई है। मंडियों में सब्जियों की सप्लाई बंद होने से इनकी कीमतें आसान छू रही हैं। वहीं दिल्ली-मुंबई में टमाटर की कीमत में दोगुने से ज्यादा का इजाफा हुआ है।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

लोकायुक्त ने तहसीलदार को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा

बता दे कि मध्यप्रदेश में लगातार रिश्वत के मामले सामने आ रहे है। हाल ही में सागर (Sagar) में मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड...

बड़ी कामयाबी:क्राइम ब्रांच ने 2 करोड़ 10 लाख की स्मैक के साथ,8 अंतर्राज्यीय तस्कर दबोचे

बता दें कि ये लोग उत्तर प्रदेश के इटावा और मैनपुरी से स्मैक ला रहे थे, फिलहाल मामले में पुलिस पूछताछ कर रही है,...

खुद के बुने जाल में फंसे दोनों टीआइ,कानून हाथ में लेना भारी पड़ा,एक लाइन अटैच दूसरा सस्पेंड

बता दें कि टीआई दतिया रत्नेश को नियम अनुसार कंपू थाने में शिकायत दर्ज करा आरोपी को कंपू पुलिस सौपना चाहिए था। लेकिन बिना...

बदमाशों ने दतिया में पदस्थ टीआई का मोबाइल लूटा,SP ने कंपू थाना प्रभारी को लाइन में बैठाया

ग्वालियर/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर में बदमाशों के हौंसले इतने बुलंद है कि पुलिस अफसरों को भी निशाना बनाने से नही चूक रहें हैं। दरअसल,कंपू...
error: Content is protected !!