Home Breaking News अन्नदाता से खुलेआम अवैध वसूली कर रहा था पटवारी,वीडियो वायरल होने के...

अन्नदाता से खुलेआम अवैध वसूली कर रहा था पटवारी,वीडियो वायरल होने के बाद SDM ने निलंबित किया

मुरैना/मध्यप्रदेश।

मध्यप्रदेश में रिश्वतखोरी इस कदर हावी है कि छोटे-मोटे कामों को भी रिश्वत लिए बिना नहीं किया जा रहा है। एमपी के मुरैना के पोरसा थाना क्षेत्र के चापक गांव से किसानों (Farmers) से रिश्वत मांगने का एक वीडियो वायरल (Video Viral) हुआ है, जिसमें एक पटवारी किसानों से 200-200 रुपए नामांतरण के नाम पर ले रहा है। रिश्वत (Bribe) मांगने का वीडियो पिछले साल का बताया जा रहा है। वीडियो में पटवारी खुमान सिंह ग्रामीणों से 200 की मांग कर रहा है और किसान अपने हाथ में रुपए लेकर पटवारी के सामने बैठे हुए हैं। जिसके चलते किसानों से रिश्वत मांगने के आरोप में पटवारी को अंबाह SDM राजीव समाधिया ने निलंबित कर दिया है। किसानों द्वारा पटवारी का रिश्वत मांगते हुए का वीडियो भी वायरल किया गया था। वीडियो में पटवारी खुमान सिंह ग्रामीण से 200 रुपए लेता दिखाई दे रहा है। किसानों ने SDM को कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा है जिसमें पटवारी से रिश्वत लिए जाने का आरोप लगाया था। किसान की शिकायत एवं वीडियो के आधार पर SDM ने यह कार्रवाई की है।

क्या है पूरा मामला

प्राप्त जानकारी के अनुसार,पटवारी खुमान सिंह, पोरसा के चापक गांव के हल्का नंबर-28 का पटवारी था। वह अधिकांश समय निलंबित ही रहा बताया जाता है। इसके पीछे उसकी कई शिकायतें बताई जाती हैं। उसके द्वारा ग्रामीण से जमीन में से लड़कियों का नाम हटाने के लिए रिश्वत मांगी गई बताई गई है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री सम्मान राशि भुगतान के लिए भी 200 रुपए रिश्वत मांगी जाने की बात कही जा रही है। इसी रिश्वत लिए जाने का वीडियो एक ग्रामीण द्वारा बना लिया गया, जिसके आधार पर उसे निलंबित कर दिया गया है। वीडियो में पटवारी कागजों पर हस्ताक्षर कर रहा है तथा किसान से 200 रुपए ले रहा है।

पट्टा कराने के लिए 10-10 हजार लिए,न पट्टे की जमीन मिली न रुपए

उपरोक्त किसानों ने बताया कि पटवारी खुमान सिंह ने उनसे शासकीय जमीन का पट्‌टा कराने के ऐवज में भी 10-10 हजार रुपए ले लिए हैं। उसके बाद न तो उसने पट्‌टे की जमीन दिलवाई और न ही रुपए वापस किए। लोगों ने यह भी बताया कि खुमान सिंह हर समय शराब के नशे में रहता है, जिसकी वजह से उसकी किसी से नहीं पटती है।

इन किसानों ने लगाए आरोप

कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन में गांव के उदेश सिंह तोमर ने 4000 रुपए, महावीर सिंह बघेल ने 1500 रुपए, श्याम सिंह तोमर ने 4000 रुपए, रामवीर सिंह तोमर ने 19000 रुपए, बलवीर सिंह बघेल ने 5000 रुपए, रामसनेही सिंह बघेल ने 2200 रुपए, रमेश सिंह तोमर ने 4600 रुपए, विजेन्द्र सिंह तोमर ने 1000 रुपए, रामकेश सिंह बघेल ने 2000 रुपए तथा रामगोपाल सिंह बघेल ने 5000 रुपए रिश्वत दिए जाने की बात कही है।

इनका कहना

पटवारी खुमान सिंह के खिलाफ किसानों ने हमसे शिकायत की थी। इसके साथ ही रिश्वत लेते हुए वीडियो भी दिखाया था। जिसके आधार पर उसे निलंबित कर दिया गया है।

–राजीव समाधिया,SDM, अंबाह।

वीडियो देखें

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रतिष्ठित “जीवाजी क्लब” में पुलिस की रेड,जुआ खेलते 11 धन्नासेठ गिरफ्तार,लाखों की नकदी बरामद

बता दें कि जीवाजी राव सिंधिया के नाम पर 100 साल से ज्यादा पुराने सबसे प्रतिष्ठित क्लब में जुए का ठिकाना चलता मिला। शहर...

मध्यप्रदेश में पुलिस निरीक्षकों के तबादले आदेश जारी,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में तबादलों का दौर लगातार जारी है इसी तारतम्य में पुलिस मुख्यालय ने बुधवार को इंस्पेक्टर्स के तबादले की सूची जारी की है।...

दिनदहाड़े व्यापारी से हुई 35 लाख की लूट का खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के गृहनगर में दिनदहाड़े गल्ला कारोबारी से 35 लाख की लूट ने पुलिस को हिला दिया। लुटेरों को ढूंढने...

मध्यप्रदेश पुलिस में DSP स्तर के अधिकारियों के थोकबंद तबादले,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश शासन ने राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों के थोकबंद तबादले किए हैं। गृह विभाग ने एक बड़ी तबादला सूची जारी की जिसमें उप...
error: Content is protected !!