Home Breaking News शराब तस्करों पर छापा मारने गई पुलिस टीम पर फायरिंग,एसआई शहीद,साथी पुलिसकर्मियों...

शराब तस्करों पर छापा मारने गई पुलिस टीम पर फायरिंग,एसआई शहीद,साथी पुलिसकर्मियों में भारी आक्रोश

बता दें कि आनन-फानन में घटना स्थल से अस्पताल लाया जा रहा था जिसमे रास्ते में ही सब-इंस्पेक्टर दिनेश राम शहीद हो गए। सब-इंस्पेक्टर दिनेश राम मोतिहारी के लखोरा थाना क्षेत्र के ससौला गांव निवासी थे। वही चौकीदार लालबाबू पासवान निजिनर्सिंग होम में इलाजरत है जिसकी स्थिति नाजुक है।


सीतामढ़ी/बिहार।

बिहार में शराबबंदी सरकार और पुलिस प्रशासन के लिए सरदर्द बन चुका है। राज्य में शराबबंदी का माखौल खुलेआम उड़ाया जा रहा है। हालात यह है कि शराब के तस्करों का दबदबा इस कदर हावी हो गया है कि सरकार और पुलिस प्रशासन को खुलेआम चुनौती दिया जा रहा है। इसी दौरान आज सीतामढ़ी में शराब तस्कर के ठिकाने पर छापेमारी करने गई पुलिस के साथ जमकर मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में अब तक दो लोगों की जान चली गई है और चौकीदार जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। मरने वालों में एक सब-इंस्पेक्टर दिनेश राम हैं दूसरा तस्कर रंजन सिंह है जो मुठभेड़ में मारा गया है। हालांकि पुलिस तस्कर रंजन सिंह की मौत गोली लगने से होने की पुष्टि नहीं कर रही है।

क्या है पूरा मामला

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, आज 10 बजे मेजरगंज थाना पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि शराब की बड़ी खेप कोआरी गांव में उतारा गया है। सूचना के बाद पुलिस टीम कोआरी गांव तस्कर रंजन सिंह के ठिकाने पर पहुंची जहां पुलिस को देख फायरिंग शुरू हो गई। जवाबी कार्रवाई में पुलिस को भी गोली चलानी पड़ी इसी दौरान एक सब इंस्पेक्टर दिनेश राम चौकीदार लालबाबू पासवान को गोली लगी।
आनन-फानन में घटना स्थल से अस्पताल लाया जा रहा था जिसमे रास्ते में ही सब-इंस्पेक्टर दिनेश राम की मौत हो गई। सब-इंस्पेक्टर दिनेश राम मोतिहारी के लखोरा थाना क्षेत्र के ससौला गांव निवासी थे। वही चौकीदार लालबाबू पासवान निजिनर्सिंग होम में इलाजरत है जिसकी स्थिति नाजुक है।

पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

इस सनसनीखेज वारदात के बाद जिले के पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। अपने दारोगा की शहादत के बाद साथी पुलिसकर्मियों में भारी आक्रोश है। जिले के एसपी सहित विभाग के सभी बड़े अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। वहीं गंभीर रुप से जख्मी चौकीदार का इलाज एक निजी हर्ष नर्सिंग होम में चल रहा है।

भारत-नेपाल की खुली सीमा का फायदा उठाते हैं तस्कर

मेजरगंज सीतामढ़ी जिले का नेपाल सीमा से सटा हुआ ब्लॉक है। पुलिस और शराब माफियाओं के बीच जहां यह मुठभेड़ हुई है, वह बॉर्डर से 2 KM दूर है। खुली सीमा होने की वजह से इलाके में तस्कर नेपाल से आसानी से शराब की सप्लाई जिले समेत आसपास के इलाकों में करते हैं।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रेम प्रसंग के चलते भोपाल के TI हाकम सिंह पवार ने इंदौर में किया सुसाइड:​​​​​​​महिला SI को भी गोली मारी

बता दें कि भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ टीआई हाकम सिंह पंवार ने इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में खुद को गोली...

ईओडब्ल्यू (EOW) ने पटवारी काे 20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोचा,काली कमाई की जांच में जुटी टीम

मुरैना/मध्यप्रदेश। रिश्वतखोर अधिकारी और कर्मचारियों पर लगातार भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसियां कार्रवाई कर रही हैं लेकिन घूसखोरी कम होने का नाम नहीं ले रही है। दरअसल,ग्वालियर आर्थिक...

स्पा सेंटर की आड़ में सेक्स रैकेट:SSP ऑफिस से चंद कदम की दूरी पर,स्पा सेंटर की आड़ में देह व्यापार का धंधा

बता दें कि पिछले पखवाड़े क्राइम ब्रांच, मुरार और सिरोल थाना पुलिस ने एक आयुर्वेद स्पा के नाम पर देह व्यापार कराने वाले सेंटर...

जिलाध्यक्ष की मदिरा पर चर्चा:कांग्रेस ने ग्वालियर भाजपा जिलाध्यक्ष का शराब पीते वीडियों शेयर किया

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री उमाभारती प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी की मुहिम छेड़े हुए हैं ,मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शराब को अच्छा...
error: Content is protected !!