Home Breaking News लोगों की सेवा करतें हुए कोरोना से शहीद हुए युवा डॉ शुभम...

लोगों की सेवा करतें हुए कोरोना से शहीद हुए युवा डॉ शुभम उपाध्याय,इलाज के दौरान दम तोड़ा

बता दें कि भोपाल में उनका स्वास्थ्य लगातार बिगड़ता चला गया। परिजन आर्थिक रूप से भी परेशान हो गए। ऐसे में सागर के लोगों ने आर्थिक मदद जुटाना भी शुरू कर दी। मध्यप्रदेश सरकार ने उनके इलाज के लिए पूरा खर्च लगभग एक करोड़ वहन करने की घोषणा कर दी थी। उनके दोनों फेफड़े 90% से ज्यादा खराब हो चुके थे। उन्हें चेन्नई ले जाना था लेकिन इसके पहले ही उन्होंने चिरायु अस्पताल भोपाल में दम तोड़ दिया।


भोपाल/मध्यप्रदेश।

कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए कोरोना महामारी की चपेट में आए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर शुभम उपाध्याय (Dr. Shubham Upadhyay) बुधवार को जिंदगी की जंग हार गए। इलाज के दौरान उन्होंने भोपाल के चिरायु अस्पताल में दम तोड़ दिया। उनकी हालत चिंताजनक बनी हुई थी,शिवराज सरकार ने उनके इलाज के लिए लगभग एक करोड़ रूपए सहायता देने की घोषणा की थी लेकिन इससे पहले ही शुभम की मौत हो गई।
शुभम पिछले 6 महीने से सागर के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में भर्ती करोना संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे थे, इसी दौरान वो भी संक्रमित हो गये थे। डॉ उपाध्याय ने बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज से मार्च 2020 में डिग्री पूरी की और उन्हें सागर के कोविड सेंटर में ही पहली नियुक्ति मिली थी। 28 अक्टूबर को शुभम वायरस से संक्रमित हुए, कुछ दिनों तक उनका वहीं इलाज चला तबीयत बिगड़ने पर 10 नवंबर को उन्हें भोपाल के चिरायु मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती किया गया था।

क्या है पूरा मामला

ईलाज के दौरान हॉस्पिटल में भर्ती डॉ शुभम कुमार उपाध्याय

प्राप्त जानकारी के अनुसार,सागर के 26 वर्षीय डॉक्टर शुभम उपाध्याय की बुधवार को कोरोना से मौत हो गई। कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए वे 28 अक्टूबर को कोरोना पॉजिटिव हो गए। चार दिन तक सागर में ही उनका उपचार किया गया। इसके बाद भोपाल लाया गया। यहां उनका स्वास्थ्य लगातार बिगड़ता चला गया। वहीं उनके इलाज के लिए बेहतर व्यवस्था की मांग सरकार से की जाने लगी। जिसके बाद मध्यप्रदेश सरकार ने उनके इलाज के लिए पूरा खर्च लगभग एक करोड़ वहन करने की घोषणा भी की लेकिन उनके दोनों फेफड़े 90% से ज्यादा खराब हो चुके थे। उन्हें चेन्नई ले जाना था लेकिन इसके पहले ही उन्होंने चिरायु अस्पताल भोपाल में दम तोड़ दिया।

डॉ शुभम कुमार उपाध्याय

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा-पूरे प्रदेश को डॉ उपाध्याय पर गर्व

मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा -मन पीड़ा और दुःख से भरा हुआ है। हमारे जाँबाज कोरोना वारियर डॉ. शुभम कुमार उपाध्याय, जो निःस्वार्थ भाव से दिन और रात एक कर कोविड पीड़ितों की सेवा करते हुए संक्रमित हुए थे, उन्होंने आज अपने प्राण न्यौछावर कर दिये। समाज की सेवा का अद्भुत और अनुपम उदाहरण डॉ. शुभम ने पेश किया। सीएम ने आगे लिखा-डॉक्टर बनते समय उन्हें जो शपथ दिलाई जाती है, उसका एक-एक अक्षर डॉ. शुभम ने सार्थक कर दिखाया। उन्होंने देश का एक सच्चा नागरिक होने का परिचय दिया। मैं ऐसे भारत माँ के सपूत के चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूँ और ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे दिवंगत आत्मा को शांति दें। मुझे और पूरे मध्यप्रदेश को उन पर गर्व है। हमारी संवेदनाएँ उनके परिजनों के साथ हैं। ईश्वर उन्हें यह वज्रपात सहने की क्षमता प्रदान करें। मैं और प्रदेश सरकार, डॉ. शुभम उपाध्याय के परिवार के साथ खड़ी है।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कांस्टेबल से लेकर एसआई की पदस्थापना के संबंध में,पुलिस मुख्यालय ने आदेश जारी किए

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में पुलिस मुख्यालय (PHQ) द्वारा थानों में कर्मचारियों की पदस्थापना के संबंध में आदेश जारी किए गए हैं। जिसके मुताबिक पुलिस थाने में...

खबर का असर,मुरैना शराबकांड:सीएम ने कलेक्टर और एसपी को हटाया,अब तक 20 की मौत

बता दे कि मंगलवार को नंबर वन पुलिस डॉटकॉम (No1Police.com) ने जहरीली शराब मामला ! ""एसपी पर गिर सकती है गाज"" इस खबर को...

मुरैना जहरीली शराबकांड:मृतकों के परिजनों का हंगामा,कमलनाथ का वार,SP पर गिर सकती है गाज

भोपाल/मुरैना/मध्यप्रदेश। रतलाम और उज्जैन के बाद मुरैना में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। मुरैना जिले में जहरीली...

फरार शराब तस्कर के प्रति आरक्षक की वफादारी,पकड़ने गयी अपनी पुलिस टीम पर हमला बोला

बता दें शराब माफिया जीतू चौहान शहर के पांच थानों हजीरा, बहोड़ापुर, पुरानी छावनी, महाराजपुरा और गोला का मंदिर में विभिन्न 9 आबकारी एक्ट...
error: Content is protected !!