Home News Headlines रेत माफियाओं का जलवा कायम:अबकी बार तहसीलदार की कनपटी पर कट्टा अड़ाकर...

रेत माफियाओं का जलवा कायम:अबकी बार तहसीलदार की कनपटी पर कट्टा अड़ाकर ट्रैक्टर ट्रॉली ले उड़े

“बता दें कि रजियावर रेत खदान से रविवार देर शाम अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रालियों को जब्त कर थाने ला रहे तहसीलदार सीताराम वर्मा की कनपटी पर कट्टा अड़ाकर बदमाश चार ट्रैक्टर-ट्राली छीन ले गए”



डबरा/ग्वालियर/मप्र……….


क्या जनता,क्या पत्रकार और क्या अधिकारी जो भी बीच मे आये उसे उड़ा दो शायद इसी प्लानिंग पर रेत माफिया काम कर रहें। इन्हें ऊँची राजनैतिक पहुँच के चलते सभी बौने नज़र आ रहें हैं। ताज़ा मामला मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले के डबरा का है जहाँ तहसीलदार पर जानलेवा हमले का मामला सामने आया है। यहां रजियावर मोरम खदान पर अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रालियों को जब्त कर थाने ले जा रहे तहसीलदार की कनपटी पर कट्टा अड़ाकर बदमाशों ने हमला कर दिया और टैक्टर-ट्राली लेकर फरार हो गए। इसके बाद जैसे तैसे अपनी जान बचाकर भागे तहसीलदार ने थाने में आवेदन देकर कार्यवाही की मांग की। वही प्रशासनिक अमला माफियाओ की जानकारी जुटाने में जुट गया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।


क्या है मामला…………


दरअसल, अवैध मोरम खदान देहात थाना क्षेत्र के रजियावर गांव में संचालित है। रविवार देर शाम रजियावर मोरम खदान पर अवैध तरीके से रेत की उत्खनन की सूचना मिलने पर एसडीएम जयति सिंह व तहसीलदार सीताराम वर्मा कार्रवाई के लिए पहुंचे और अवैध रेत से भरे टैक्टर -ट्राली और जेसीबी जप्त भी किए। इसी दौरान चीनौर रोड के पास एक ट्रैक्टर-ट्राली चालक भागने लगा। जिस पर तहसीलदार वर्मा ने होमगार्ड सैनिकों को अपनी जीप से भेजकर पकड़ने के लिए कहा। वही दूसरी तरफ जब वह पकड़ी गई ट्रैक्टर-ट्रॉलियों के पास तहसीलदार खड़े थे तभी तीन बाइक पर छह लोग व जीप में सवार आधा दर्जन से अधिक लोगों ने उन्हें घेर लिया और उनकी कनपटी पर कट्टा अड़ाकर चार ट्रैक्टर-ट्रालियों को लूटकर ले गए।


किसी बड़े हादसे के इंतजार में तो नही शासन……….


इस दौरान तहसीलदार किसी तरह अपनी जान बचाकर भागे। वैसे प्रशासन ने चार ट्रेक्टर ट्रॉली व एक जेसीबी मशीन को जप्त किया था, लेकिन तीन ट्रेक्टर-ट्राली को ले जाने में माफिया कामयाब हो गए और ट्रैक्टर-ट्राली व एक जेसीबी मशीन नहीं ले जा सके। बाद में पुलिस इन्हें जब्त कर थाने लाए। बताया जा रहा है कि एसडीएम जयति सिंह ने कार्यवाही के बाद सभी वाहन तहसीलदार की सुप्रदगी में किये थे। घटना के बाद अपनी जान बचाकर थाने पहुंचे तहसीलदार ने आवेदन देकर कार्यवाही की मांग की। फिलहाल प्रशासन माफियाओ की जानकारी जुटाने में जुट गया है।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

दुःखद:ड्यूटी पर जाते समय सड़क दुर्घटना में आरक्षक की दर्दनाक मौत,तीन घायल

शाजापुर/मध्यप्रदेश। झाबुआ जिले में पदस्थ आरक्षक की सड़क दुर्घटना में दर्दनाक मौत हो गई। दरअसल,अपने घर से ड्यूटी जाते समय थाना सुनेरा के भीलवाडिया जोड़...

क्राइम के बादशाह MLA:कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े और TI के बीच बहस का वीडियो वायरल

बता दें कि कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े वर्तमान में एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष हैं और यूथ कांग्रेस के प्रबल दावेदार हैं। सोमवार को बड़ौद...

लोगों की सेवा करतें हुए कोरोना से शहीद हुए युवा डॉ शुभम उपाध्याय,इलाज के दौरान दम तोड़ा

बता दें कि भोपाल में उनका स्वास्थ्य लगातार बिगड़ता चला गया। परिजन आर्थिक रूप से भी परेशान हो गए। ऐसे में सागर के लोगों...

BIG SALUTE:आरक्षक ने एक साल का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान किया

जांजगीर-चंपा/छत्तीसगढ़। खाकी के आपने कई रंग देखे होंगें पर कुछ अच्छे और कुछ बुरे पर खाकी का ये रंग अनोखा है। लोग इसकी भूरी-भूरी प्रशंसा...
error: Content is protected !!