Home News Headlines पुलिस हिरासत में युवक की मौत के बाद जमकर बवाल,SDM की गाड़ी...

पुलिस हिरासत में युवक की मौत के बाद जमकर बवाल,SDM की गाड़ी तोड़ी,6 पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज 11 निलंबित

बता दें कि ग्रामीणों के उत्पात के बाद इन पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज हुआ।


इंस्‍पेक्‍टर अरविंद मोहन शर्मा


सब इंस्‍पेक्‍टर मनोज उपाध्याय 


हेड मोहर्रिर रविंद्र राणा


कांस्टेबल विनीत चौधरी


विवेक काकरान


​​​जितेंद्र सिंह



अमरोहा/उत्तरप्रदेश…………


उत्तर प्रदेश में अमरोहा के धनौरा क्षेत्र में पुलिस की हिरासत में एक दलित युवक की मृत्यु हो जाने से आक्रोशित ग्रामीणों ने बुधवार को मंडी धनौरा मे बंदायू-पानीपत स्टेट हाईवे-51 सडक मार्ग जाम लगा दिया। इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार ने ड्यूटी पर तैनात 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है, और धनौरा थाना के प्रभारी निरीक्षक अरविन्द शर्मा समेत 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ 302 और SC-ST एक्ट में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाई करते हुए एएसपी को जांच दी गई है। इस संबंध में डीएम अमरोहा को जांच के लिए अनुरोध पत्र भेजा गया है।



क्या है मामला…………..


पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि अमरोहा के मंडी धनौरा क्षेत्र के बसी शेरपुर निवासी बालकिशन (30) को गत रविवार को चोरी के वाहन खरीदने के आरोप में पूछताछ के लिए थाने लाकर हवालात में बंद कर दिया था। बुधवार को की रात में युवक की तबीयत बिगड़ने पर उसे अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतक के परिजनों को बुधवार नौ बजे सूचित किया।


ग्रामीणों ने जमकर मचाया उत्पात…………



सूत्रों ने बताया कि पुलिस हिरासत में युवक की मृत्यु की सूचना मिलते ही ग्रामीणों ने हाईवे पर सुबह दस बजे से जाम लगा है। वाहनों की लंबी लंबी कतार लग गई हैं मौके पर कई थानों की पुलिस तथा पीएसी तैनात की गयी है। भीड़ ने उपजिलाधिकारी के वाहन में तोडफ़ोड़ कर दी।

उपजिलाधिकारी(एसडीएम) संजीव बंसल तथा पुलिसक्षेत्राधिकारी मोनिका यादव द्वारा आक्रोशित भीड़ को बताया गया कि दोषी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। उन्होंने ग्रामीणों से जाम खोलने की अपील की है। ग्रामीणों ने दोषीं पुलिसकर्मियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर मृतकाश्रित परिवार को बीस लाख रुपये और सरकारी नौकरी देने की मांग की है।



मृतक की पत्नी ने पुलिस पर लगाये आरोप………..


वहीँ दूसरी ओर मृतक की पत्नी कुंती ने आरोप लगाया है कि पिछले चार दिनों से बालकिशन को बिना किसी आरोप के हवालात में बंद कर पूछताछ की गयी। पुलिस द्वारा की गयी पिटायी के दौरान उसकी मृत्यु हुई है। पुलिस उसे छोड़ने के लिये रूपयों की मांग कर रही थी। मृतक युवक के छोटे छोटे चार बच्चे हैं।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पुलिस भी नहीं महफूज:तीन दिन से लापता पुलिस ASI की हत्या,हत्या के बाद शव को जंगल में दफनाया

छिंदवाड़ा/सिवनी/मप्र। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा के चांद थाने में पदस्थ पुलिस एएसआई की प्रॉपर्टी विवाद के चलते हत्या कर दी गई। वह तीन दिन से लापता थे।...

लोकायुक्त ने एक लाख की रिश्वत लेते CMO और बाबू को रंगे हाथों दबोचा

बता दें कि नगर पालिकाओं और नगर परिषदों में इतनी लंबी राशि की रिश्वत लेना आम बात है और ठेकेदारों के द्वारा लंबी राशि...

फर्ज के लिए सीने पर चाकू खाया:बलात्कार के आरोपी ने पुलिस SI के सीने में चाकू घोंपा,हालात गम्भीर

बता दें कि घायल SI वेदप्रकाश को पुलिसकर्मी जीप से नौरोजाबाद के SECL अस्पताल ले जाया गया। यहां डॉक्टर चाकू नहीं निकाल पाए। डर...

दुःखद:भीषण सड़क हादसे में पुलिस सब इंस्पेक्टर की दर्दनाक मौत,कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल

बता दें कि दुर्घटना की स्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि हादस में कार के परखच्चे उड़ गए। घटना से...
error: Content is protected !!