Home Breaking News दिनदहाड़े व्यापारी से हुई 35 लाख की लूट का खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार

दिनदहाड़े व्यापारी से हुई 35 लाख की लूट का खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के गृहनगर में दिनदहाड़े गल्ला कारोबारी से 35 लाख की लूट ने पुलिस को हिला दिया। लुटेरों को ढूंढने के लिए एसएसपी अमित सांघी सहित एएसपी मृगाखी डेका, सीएसपी ऋषिकेश मीणा, सीएसपी रवि भदौरिया क्राइम ब्रांच, एसपी साइबर सेल, क्राइम ब्रांच साइबर सेल और डबरा थाने की टीम जुटी थीं। लगभग 150 पुलिसकर्मियों ने कमरतोड़ मेहनत की
लुटेरों तक पहुंचने के लिए टीमों ने रोज करीब 16 घंटे की मशक्कत की। इस दौरान 500 से ज्यादा सीसीटीवी का चैक किए।


डबरा/ग्वालियर/मप्र।

ग्वालियर पुलिस ने आखिरकार 8 दिन बाद डबरा में व्यापारी के साथ हुई 35 लाख रुपये की लूट का खुलासा कर दिया है।
दरअसल,डबरा में 22 नवंबर को दिनदहाड़े व्यापारी से हुई 35 लाख की लूट के मामले में बड़ा खुलासा किया है।पुलिस ने आरोपितों के पास से 7 लाख रुपए व बाइक बरामद किया है। लूट के आरोप में पुलिस ने पड़ोसी व्यापारी के मुनीम सहित 4 लोगों को गिरफ्तार किया है।घटना के बाद से पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही थी।

क्या है पूरा मामला

प्राप्त जानकारी के अनुसार,22 नवंबर को डबरा में रहने वाले एक व्यापारी सेवक राम बजाज अपने साथी के साथ बैंक से 35 लाख रुपए निकालकर जा रहे थे। तभी बाइक पर सवार होकर आए बदमाशों ने कट्टे से फायरिंग कर 35 लाख रुपए लूट लिए। आरोपितों ने बैंक से कुछ दूरी पर ठाकुर बाबा रोड पर बाइक सवार बदमाशों ने व्यापारी की बाइक में टक्कर मारकर सड़क पर गिराया और बैग छीनने की कोशिश की, इस दौरान जब व्यापारी और उसके सहयोगी ने इनसे भिड़ने की कोशिश की तो बदमाशों ने फायर किए। बदमाशों द्वारा किये गये फायर से व्यापारी और उसका साथी डर गए और बैग छोड़ दिया। मौके से तीनों बदमाश रूपयों से भरा बैग लेकर बाइक से भाग निकले थे। थाना डबरा पुलिस द्वारा अज्ञात लुटेरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

पुलिस ने सैकड़ों सीसीटीवी फुटेज खंगाले

घटना के बाद पुलिस ने घटना स्थल के आसपास एवं संपूर्ण डबरा शहर के सभी सीसीटीवी फुटेज चेक किये। लूट की घटना की पतारसी के लिए पूर्व के आपराधिक रिकॉर्ड व जेल से रिहा हुए करीब 100 लुटेरों की भी तस्दीक की गई।
घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे मोटर सायकिल सवार बदमाशों की तस्दीक हेतु मुखबिर तंत्र भी सक्रिय किया। जांच के दौरान 500 से अधिक सीसीटीवी कैमरों के फुटेज तलासे गये और 6 दिन का बैकअप देखा गया। इसके बाद वांछित 8 अपराधी चिन्हित हो गये। पुलिस के मुताबिक घटनाक्रम को बदमाशों द्वारा पूरी योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया गया। व्यापारी के बैंक जाने की सूचना लुटेरों को डबरा के ही एक अन्य व्यापारी के मुनीम ने दी थी। तब लूटेरों द्वारा ग्वालियर के बीएसएफ कॉलोनी से एक मोटर सायकल चोरी कर उसकी नम्बर प्लेट हटाकर घटना के तीन दिन पूर्व से उक्त व्यापारी की बैंक से घर तक रैकी की गई। घटना दिनांक को एक अपाचे मोटर सायकिल पर तीन लुटेरों ने दिनदहाड़े इस दुस्साहसिक घटना को अंजाम दिया जिसमें बैंक से घटना स्थल तक इनके पांच अन्य साथियों द्वारा लूट की घटना कारित कराने में सहयोग किया।

रेकी कर घटना को अंजाम दिया

सर्वप्रथम रैकी करने वाले बदमाश चिन्हित किये जिन्हें पुलिस टीमों द्वारा विभिन्न स्थानों से पकड़ा जाकर पूछताछ की तो उनके द्वारा संपूर्ण घटना का खुलासा किया तथा गिरफ्तार चार आरोपियों की निशादेही पर घटना में लूटे गये रुपयों में से 7 लाख रुपये तथा घटना में प्रयुक्त चार मोटर सायकिलों में से एक मोटर सायकिल जप्त की गई है। ज्ञात हुआ है। कि घटना में प्रयुक्त चार में से तीन मोटर सायकिल लुटेरों द्वारा योजनाबद्ध तरीके से चोरी कर इस्तेमाल की गई थी। पकड़े गये चार बदमाशों में से दो को टेकनपुर के पास से तथा रैकी करने वाले मुनीम को डबरा से एवं एक अन्य को झांसी से पकड़ा गया। पकड़े गये बदमाशों से पुलिस टीम द्वारा उनके फरार शेष साथियों व लूटी गई रकम के संबंध में विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

युवती के साथ खनियाधाना थाना प्रभारी (TI) का अश्लील वीडियो वायरल,लाइन हाजिर

शिवपुरी/मध्यप्रदेश। युवती के साथ थाना प्रभारी का अश्लील वीडियो वायरल होने के बाद थाना प्रभारी पर गाज गिरी हैं। दरअसल,शिवपुरी के खनियाधाना थाना प्रभारी का एक...

Promotion:पुलिस इंस्पेक्टर्स को मिली पदोन्नति,124 कार्यवाहक DSP बने,आदेश जारी

बता दें कि आदेश में स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि कार्यवाहक उप पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्य करने वाले निरीक्षक यानि...

शिक्षा का मंदिर बना कुश्ती का अखाड़ा:जीवाजी यूनिवर्सिटी में भिड़े ABVP और NSUI छात्र नेता,जमकर चले लात घूंसे

बता दें कि चार दिन पहले जीवाजी यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. अविनाश तिवारी ने ABVP के किसी पोस्टर का अनावरण कर दिया था। NSUI...

लोकायुक्त ने प्रधान आरक्षक को 5 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया

इंदौर/मध्यप्रदेश। लोकायुक्त पुलिस ने इंदौर के सांवेर पुलिस थाने के प्रधान आरक्षक जयवंत यादव को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। आरोपी सांवेर थाने में पदस्थ...
error: Content is protected !!