Home Breaking News CMHO 10 हजार की रिश्वत लेते लोकायुक्त के हत्थे चढ़ा,नर्स से ट्रांसफर...

CMHO 10 हजार की रिश्वत लेते लोकायुक्त के हत्थे चढ़ा,नर्स से ट्रांसफर लिए मांगे थे 35 हजार

बता दें कि बताया गया है कि डॉ चौहान 2 महीने बाद रिटायर होने वाले हैं। मई 2021 में डॉ चौहान ने खंडवा में पदभार ग्रहण किया था।

खंडवा/मध्यप्रदेश।

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में सोमवार को लोकायुक्त टीम की बड़ी कार्रवाई सामने आई है। इंदौर लोकायुक्त ने खंडवा में जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (CMHO) काे रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है। सीएमएचओ डोंगर सिंह (डीएस) चौहान को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा गया। लोकायुक्त इंंस्पेक्टर प्रवीणसिंह बघेल के अनुसार स्टाफ नर्स से ट्रांसफर के बदले 35 हजार रुपए मांगे गए थे। सीएमएचओ 5 हजार रुपए पूर्व में ले चुका था, सोमवार को 10 हजार रुपए लेते उनके शासकीय आवास के बाहर से रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया। स्टाफ नर्स सविता झरबड़े ने लोकायुक्त से शिकायत की थी जिसके बाद भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (संशोधित) 2018 की धारा 7 के अंतर्गत कार्यवाही की गई है।

क्या है पूरा मामला

कार्रवाई करती लोकायुक्त पुलिस लाल घेरे में सीएमएचओ

प्राप्त जानकारी के अनुसार,लोकायुक्त इंंस्पेक्टर के अनुसार,आवेदिका सविता झरबड़े छैगांवमाखन में स्टाफ नर्स के पद पर पदस्थ है। वह पारिवारिक कारणों से अपना स्थानांतरण जिला अस्पताल खंडवा चाहती थी। जिसके लिए वह सीएमएचओ से मिली तो सीएमएचओ डीएस चौहान द्वारा उससे स्थानांतरण के ऐवज में 40 हजार रुपए की मांग की गई।

शिकायतकर्ता नर्स

जिसकी शिकायत आवेदिका द्वारा पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त कार्यालय इंदौर में आकर की गई। बातचीत के दौरान 35 हजार में लेनदेन तय हुआ। सोमवार काे डीएस चौहान को उनके निवास पर 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथ ट्रैप किया गया।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रेम प्रसंग के चलते भोपाल के TI हाकम सिंह पवार ने इंदौर में किया सुसाइड:​​​​​​​महिला SI को भी गोली मारी

बता दें कि भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ टीआई हाकम सिंह पंवार ने इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में खुद को गोली...

ईओडब्ल्यू (EOW) ने पटवारी काे 20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोचा,काली कमाई की जांच में जुटी टीम

मुरैना/मध्यप्रदेश। रिश्वतखोर अधिकारी और कर्मचारियों पर लगातार भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसियां कार्रवाई कर रही हैं लेकिन घूसखोरी कम होने का नाम नहीं ले रही है। दरअसल,ग्वालियर आर्थिक...

स्पा सेंटर की आड़ में सेक्स रैकेट:SSP ऑफिस से चंद कदम की दूरी पर,स्पा सेंटर की आड़ में देह व्यापार का धंधा

बता दें कि पिछले पखवाड़े क्राइम ब्रांच, मुरार और सिरोल थाना पुलिस ने एक आयुर्वेद स्पा के नाम पर देह व्यापार कराने वाले सेंटर...

जिलाध्यक्ष की मदिरा पर चर्चा:कांग्रेस ने ग्वालियर भाजपा जिलाध्यक्ष का शराब पीते वीडियों शेयर किया

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री उमाभारती प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी की मुहिम छेड़े हुए हैं ,मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शराब को अच्छा...
error: Content is protected !!