Home Breaking News EOW ने फर्म एवं सोसायटी के सहायक रजिस्ट्रार को 20 हजार की...

EOW ने फर्म एवं सोसायटी के सहायक रजिस्ट्रार को 20 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोचा

बता दें कि ये पहला मौका है जब EOW ने एक ही दिन में दो बड़ी कार्यवाही की है आज सुबह EOW ने पंचायत सचिव रोशन सिंह गुर्जर के ग्वालियर और भिंड स्थित घरों पर छापामार कार्यवाही की है जिसमें बेहिसाब संपत्ति मिली है। EOW की कार्यवाही के बाद से रिश्वतखोर कर्मचारियों अधिकारियों में दशहत का माहौल है।


ग्वालियर/मध्यप्रदेश।

ग्वालियर ईओडब्ल्यू ने आज दूसरी बड़ी कार्रवाई करते हुये रिश्वतखोर फर्म एंड सोसायटी के सहायक रजिस्ट्रार
भगवान दास कुबेर (BD Kuber) काे 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। इससे पहले ईओडब्ल्यू ने आज सुबह सवेरे पंचायत सचिव के यहां छापामार कर भारी मात्रा में संपत्ति पकड़ी है। यह पहला मौका है जब ईओडब्ल्यू ने एक के बाद एक दो कार्रवाईयां की है इससे रिश्वतखोर कर्मचारियों में दहशत का माहौल है।

क्या है पूरा मामला

सहायक रजिस्ट्रार भगवान दास कुबेर लाल घेरे में

प्राप्त जानकारी के अनुसार,फरियादी हेमंत उपाध्याय निजी रूप से फर्म एंड साेसायटी रजिस्टर्ड कराने का काम करते हैं। इन दिनाें वह सराफा बाजार व्यवसायी संघ की समिति के रिन्यूअल का काम संभाल रहे हैं। इसी सिलसिले में एक डेढ़ माह पहले उनकी सहायक पंजीयक भगवान दास कुबेर से मुलाकात हुई थी। इस दाैरान सहायक पंजीयक ने उनसे रिन्युअल की ऐवज में 25 हजार रुपये की मांग की थी। बाद में समझाैता बीस हजार रुपये पर हुआ था। इसके बाद बीते राेज हेमंत पांच हजार रुपये लेकर बैजाताल स्थित फर्म एंड साेसायटी रजिस्टर्ड कार्यालय पहुंचे थे। यहां पर सहायक पंजीयक कुबेर ने पैसे लेने से इंकार करते हुए कहा कि बीस हजार से कम में काम नहीं हाेगा। इसके बाद फरियादी ने ईओडब्ल्यू में इसकी शिकायत दर्ज कराई गई। ईओडब्ल्यू ने बीस हजार रुपये लेकर आज हेमंत काे फिर भगवान दास कुबेर के पास भेजा था। हेमंत ने फर्म एंड साेसायटी रजिस्टर्ड कार्यालय में पहुंचकर सहायक पंजीयक कुबेर के बीस हजार रुपये दिए, जिसे उसने सामने रखी फाइल के अंदर रख लिए। इसी दाैरान ईओडब्ल्यू टीआइ यशवंत गाेयल अपनी टीम के साथ वहां पहुंचे और सहायक पंजीयक काे रंगे हाथाें गिरफ्तार कर लिया गया।

इनका कहना

EOW के TI यशवंत गोयल ने बताया कि हेमंत की शिकायत की जांच की गई। शिकायत पुख्ता होने के बाद EOW ने इस मामले को सही पाया और बुधवार दोपहर ट्रैप की कार्रवाई की। हेमंत उपाध्याय ने जैसे ही दफ्तर में जाकर असिस्टेंट रजिस्ट्रार भगवानदास कुबेर के हाथ में 20 हज़ार रुपए थमाए, वैसे ही पहले से मौजूद EOW की टीम ने उन्हें रंगे हाथ दबोच लिया और उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई शुरू कर दी।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

प्रतिष्ठित “जीवाजी क्लब” में पुलिस की रेड,जुआ खेलते 11 धन्नासेठ गिरफ्तार,लाखों की नकदी बरामद

बता दें कि जीवाजी राव सिंधिया के नाम पर 100 साल से ज्यादा पुराने सबसे प्रतिष्ठित क्लब में जुए का ठिकाना चलता मिला। शहर...

मध्यप्रदेश में पुलिस निरीक्षकों के तबादले आदेश जारी,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में तबादलों का दौर लगातार जारी है इसी तारतम्य में पुलिस मुख्यालय ने बुधवार को इंस्पेक्टर्स के तबादले की सूची जारी की है।...

दिनदहाड़े व्यापारी से हुई 35 लाख की लूट का खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के गृहनगर में दिनदहाड़े गल्ला कारोबारी से 35 लाख की लूट ने पुलिस को हिला दिया। लुटेरों को ढूंढने...

मध्यप्रदेश पुलिस में DSP स्तर के अधिकारियों के थोकबंद तबादले,लिस्ट देखें

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश शासन ने राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों के थोकबंद तबादले किए हैं। गृह विभाग ने एक बड़ी तबादला सूची जारी की जिसमें उप...
error: Content is protected !!