Home News Headlines NSA और जिलाबदर कुख्यात बदमाश को पासपोर्ट के लिए दे दी क्लीनचिट,टीआई...

NSA और जिलाबदर कुख्यात बदमाश को पासपोर्ट के लिए दे दी क्लीनचिट,टीआई सस्पेंड

“बता दें कि कुख्यात बदमाश को क्लीनचिट देने के लिए सौदा तय हुआ था, लेकिन मामला लीक हो गया करण के आवेदन पर पुलिस वेरिफिकेशन में थाने में दो महीने लगे,जबकि सात दिनों के भीतर यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है”



भोपाल/मध्यप्रदेश…………


मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल फर्जी दस्तावेजो के आधार पर पासपोर्ट बनवाने वाले देश के कुख्यात शहरों में से एक है। यह वही शहर है जहां से अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम का पासपोर्ट बना था। एक बार फिर ऐसा ही मामला आया है। टीटी नगर थाना प्रभारी आलोक श्रीवास्तव ने एक कुख्यात बदमाश को पासपोर्ट के लिए क्लीनचिट दे दी। मामले का खुलासा हुआ तो एसपी ने उन्हे सस्पेंड कर दिया।


क्या है मामला………….


गृहमंत्री बाला बच्चन ने आईजी जयदीप प्रसाद को तलब किया था और टीआई को हटाने के निर्देश दिए थे। इसके बाद आईजी ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए थे। असल में, टीटी नगर थाने की गुंडा लिस्ट में शामिल बदमाश करण सिंह उर्फ लालू को पुलिस वेरिफकेशन में क्लीनचिट दे दी गई थी। इसके चलते टीआई आलोक श्रीवास्तव को तत्काल प्रभाव से लाइन अटैच कर दिया गया था। 


कुख्यात बदमाश को संभ्रात नागरिक घोषित किया……….


एनएसए और जिलाबदर हो चुके कुख्यात बदमाश करण सिंह उर्फ लालू पिता हयात सिंह पर हत्या के प्रयास, छेड़छाड़, घर में घुसकर मारपीट, घर में घुसकर महिलाओं से छेड़छाड़, आर्म्स एक्ट, उपद्रव, बलवा जैसे अपराधों में आइपीसी के करीब दो दर्जन मामले दर्ज हैं। इसके बावजूद पुलिस ने उसके अपराधों को नजरअंदाज करते हुए एक संभ्रात नागरिक घोषित कर दिया है। बदमाश करण सिंह उर्फ लालू का पासपोर्ट नवंबर 2018 में पुलिस की इसी रिपोर्ट के आधार पर बनकर जारी हो गया। बदमाश करण उर्फ लालू को क्लीनचिट के साथ जारी हुए पासपोर्ट का नंबर (एस-80 9 3655) है। पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक करण सिंह उर्फ लालू पर एक भी अपराध नहीं है। मामले में डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी का कहना है कि प्रकरण में नियम विरुद्ध अगर कुछ हुआ है तो संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी। जांच में दोषी पाए जाने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

न्याय अभी ज़िंदा है:प्रशासन ने दबंगों के कब्जे से फौजी का मकान मुक्त कराया

बता दें कि इस मामले में बीते डेढ़ साल से रिटायर्ड सूबेदार संजय सक्सैना थाना से लेकर सीएसपी ऑफिस, एसपी ऑफिस व कलेक्टर कार्यालय...

सट्टा पकड़ने गयी पुलिस टीम पर जोरदार हमला,पत्थरबाजी के शिकार एसआई अस्पताल में भर्ती

ग्वालियर/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले में पुलिस पार्टी पर हमले की खबर आ रही है। जानकारी मिल रही है कि इस हमले में एक एसआई...

लोकायुक्त ने तहसीलदार को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा

बता दे कि मध्यप्रदेश में लगातार रिश्वत के मामले सामने आ रहे है। हाल ही में सागर (Sagar) में मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड...

बड़ी कामयाबी:क्राइम ब्रांच ने 2 करोड़ 10 लाख की स्मैक के साथ,8 अंतर्राज्यीय तस्कर दबोचे

बता दें कि ये लोग उत्तर प्रदेश के इटावा और मैनपुरी से स्मैक ला रहे थे, फिलहाल मामले में पुलिस पूछताछ कर रही है,...
error: Content is protected !!