Home News Headlines प्रदेश का मान बढ़ाया:पटियाला में ASI का कटा हाथ जोड़ने वाली डॉक्टरों...

प्रदेश का मान बढ़ाया:पटियाला में ASI का कटा हाथ जोड़ने वाली डॉक्टरों की टीम में,मप्र के डॉ मयंक मंगल थे शामिल

बता दें कि रविवार को पटियाला में कर्फ्यू पास मांगने पर निहंग भड़क उठे थे। उन्होंने पुलिस टीम पर हमला कर एएसआई हरजीत सिंह का हाथ काट दिया था। इसके बाद हरजीत सिंह को चंडीगढ़ पीजीआई रेफर कर दिया गया था। यहां पर उनके हाथ को जोड़ने के लिए ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन करीब साढ़े सात घंटे चला। 9 डॉक्टर्स की टीम और 3 स्टाफ नर्स ने एक चैलेंज के साथ ये जटिल ऑपरेशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया। इस टीम में गुना के रहने वाले डॉ.मयंक मंगल भी शामिल थे।



गुना/मध्यप्रदेश………………


पटियाला में निहंगों के हमले से बुरी तरह जख्मी एएसआई हरजीत सिंह का हाथ चंडीगढ़ पीजीआई की डॉक्टरों की टीम ने जोड़ दिया है। डॉक्टरों की जिस टीम ने एएसआई का हाथ जोड़ा है, उसमें मध्य प्रदेश के गुना ज़िले के डॉ.मयंक मंगल भी शामिल थे। डॉ. मयंक पीजीआई में सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर हैं। उन पर पूरा प्रदेश गर्व कर रहा है। मयंक ने कहा कि ऐसे ऑपरेशन हमने पहले भी किए हैं, लेकिन ये ऑपरेशन हमारे लिए चुनौती की तरह था। हमारी टीम ने इसे सफलतापूर्वक किया है।" मयंक ने कहा कि 5 दिन का बाद इसका रिजल्ट सामने आएगा, हमें देखना होगा कि इसकी रिकवरी कितनी रफ्तार से होती है।


कौन है डॉक्टर मयंक मंगल…………..


डॉ. मयंक ने गुना के मॉडर्न स्कूल से पढ़ाई की है। वह कहते हैं कि मैंने गुना में पढ़ाई की, यहीं पला-बढ़ा। अब इस लायक बन गया हूं तो गुना के लिए कुछ सोच रहा हूं और वह अभी मेरे मन में है। वहां पर भी सर्जरी को लेकर तमाम समस्याएं हैं। इसे दूर करने की कोशिश करूंगा।गुना मेरा जन्मभूमि है मैं वहां पर जरूर कुछ करना चाहूंगा। मयंक मंगल के भाई और पेशे से इंजीनियर नीतेश मंगल ने बताया कि भइया की स्कूल एजुकेशन गुना से हुई है। इसके बाद वह मेडिकल की पढ़ाई के लिए कोयंबटूर मेडिकल कॉलेज चले गए। वहां से कोर्स करके अब वह चंडीगढ़ पीजीआई से प्लास्टिक सर्जरी में स्पेशालाइजेशन कर रहे हैं। इसके पहले वह जनरल सर्जरी में पोस्ट ग्रेजुएट हैं।


डॉ मयंक को सोशल मीडिया पर मिल रहीं हैं ढेरों बधाई…………


इस ऑपरेशन के सफल होने के बाद सोशल मीडिया पर एमपी को गौरवान्वित, करने वाले डॉक्टर मयंक को ढेरों बधाई मिल रही हैं। उनकी टीम के लिए लोग तारीफों के पुल बांध रहे हैं।


आसान नहीं था ऑपरेशन………………


एएसआई के कटे हुए हाथ का ऑपरेशन करती डॉक्टरों की टीम


 


सूचना मिलते ही डॉक्टरों की टीम तैयार की गई निहंगों के हमले में एक पुलिस अधिकारी का पीजीआई चंडीगढ़ फोन आया कि पटियाला में जख्मी एएसआई हरजीत सिंह को ट्रीटमेंट के लिए पीजीआई भेजा जा रहा है। पुलिस अधिकारियो ने डॉक्टर्स को बताया कि हमले में एएसआई का हाथ कट गया है। पीजीआई में इस कठिन टॉस्क के लिए डॉक्टरों की एक टीम बनाई गई। ऑपरेशन के लिए एएसआई हरजीत सिंह को ऑपरेशन थियेटर में लाया गया। वहां मरीज के हाथ की जांच के बाद बड़ी सावधानी पूर्वक हाथ की नसों को जोड़ा गया। सुबह करीब 10 बजे शुरू हुआ ऑपरेशन शाम साढ़े पांच बजे पूरा हुआ। यानी पूरे साढ़े सात घंटे बाद टीम के डॉक्टर्स ने कहा- ऑपरेशन सक्सेसफुल। डॉक्टर्स की टीम ने सफलतापूर्वक कटे हाथ को जोड़ दिया था।डॉक्टरों विश्वास है कि कुछ दिन बाद जुड़ा हुआ हाथ अच्छे से काम करना शुरू कर देगा।


आपरेशन करने वाली डॉक्टरों की टीम

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

लोगों की सेवा करतें हुए कोरोना से शहीद हुए युवा डॉ शुभम उपाध्याय,इलाज के दौरान दम तोड़ा

बता दें कि भोपाल में उनका स्वास्थ्य लगातार बिगड़ता चला गया। परिजन आर्थिक रूप से भी परेशान हो गए। ऐसे में सागर के लोगों...

BIG SALUTE:आरक्षक ने एक साल का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान किया

जांजगीर-चंपा/छत्तीसगढ़। खाकी के आपने कई रंग देखे होंगें पर कुछ अच्छे और कुछ बुरे पर खाकी का ये रंग अनोखा है। लोग इसकी भूरी-भूरी प्रशंसा...

प्यार में धोखा खाए आशिक ने महिला आरक्षक को गोली मारी,फिर खुद के सीने पर फायर ठोका

बता दें कि घटना की सूचना पर इंदौर आईजी योगेश देशमुख भी जिला अस्पताल पंहुचे जहां घायल पल्लवी के स्वास्थ की जानकारी ली साथ...

युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष के ड्राइवर ने खुद को गोली मारी,हालत गम्भीर

बता दें कि शुरुआती जांच में पता चला कि कृष्णकांत का सुबह घर में ही विवाद हुआ था। इसी कारण उसने आत्महत्या करने का...
error: Content is protected !!