Home News Headlines AUDIO:पुत्र मोह में सिंधिया समर्थक पूर्व विधायक ने SDOP को धमकाया,विवादित ऑडियो...

AUDIO:पुत्र मोह में सिंधिया समर्थक पूर्व विधायक ने SDOP को धमकाया,विवादित ऑडियो वायरल

“बता दें कि यह ऑडियो जबरदस्त सुर्खियों में बना हुआ है सुरेश राठखेड़ा पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेहद करीबी हैं और 22 विधायकों के साथ इस्तीफा देकर कांग्रेस की सरकार गिरा चुके हैं। उनका यह ऑडियो हर तरफ चर्चा बटोर रहा है”



शिवपुरी/मध्यप्रदेश……………


MLA का Full Form होता है, "Member of the Legislative Assembly" जिसका हिंदी में अर्थ होता है, "विधानसभा के सदस्य" अर्थात "विधायक"। इसमें Legislative शब्द होता हैं विधायी, व्यवस्थापक, नियामक, विधिकारी, Legislative शब्द कानून की किताबो में भी मिलता हैं, इसका एक अर्थ यह भी होता हैं कानून बनाने में सहयोग करने वाला।

शायद हमारे विधायक साहब इस शब्द का अर्थ नही पता होगा, अगर होता तो वह पुत्र मोह में लॉकडाउन में ऐसी हरकत नही करते। MLA साहब देश के प्रधानमंत्री के द्वारा घोषित लॉकडाउन का अक्षर सह पालन करते और लोगो को भी करवाते। जब कानून बनाने वाले ही उसका उल्घनन करेंगें तो समाज में क्या संदेश जाऐगा। दरअसल,मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के पोहरी के पूर्व विधायक सुरेश राठखेड़ा और पोहरी के एसडीओपी राकेश व्यास के बीच तीखी नोंकझोंक का एक ऑडियो शनिवार को वायरल हो गया। हर तरफ इसकी चर्चा हो रही है।


क्या है पूरा मामला……………..


प्राप्त जानकारी के अुनसार शुक्रवार को मनीष धाकड़ व एक अन्य युवक को एसडीओपी राकेश व्यास ने पोहरी चौराहे से पकड़ा था। दोनों को बाइक सहित थाने में बिठा लिया। मनीष ने थाने से सुरेश धाकड़ के बेटे जितेंद्र को फोन लगा दिया। जितेंद्र के कहने पर भी पुलिस ने दोनों को नहीं छोड़ा तो विधायक पुत्र थाने पहुंच गया। इसके बाद पूर्व विधायक ने एसडीओपी को फोन लगा दिया। इस घटना के बाद भी एसडीओपी पूर्व विधायक से हुई इस बहस के बारे में कुछ कहने से बचते रहे। एसडीओपी व्यास का कहना है कि दोनों लड़कों को रात में ही छोड़ दिया है। बाइक का रजिस्ट्रेशन व बीमा नहीं था। इसलिए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्रवाई कर चालान न्यायालय में पेश करेंगे।


क्या विवाद हुआ ऑडियो में……………


दरअसल ऑडियो में राठखेड़ा की बातचीत एसडीओपी से उनके पुत्र को चांटा मारने को लेकर होती सुनाई दे रही है। ऑडियो में विधायक ने एसडीओपी व्यास से कहा कि उनके बेटे को चांटा मार दूंगा कैसे कहा। जिस पर एसडीओपी ने कहा मैंने ऐसा नहीं बोला, बल्कि बेटे से ही पूछिए कि वह लॉकडाउन में थाने में क्या कर रहा था। उसको नहीं आना चाहिए था। लॉकडाउन तोड़ा है। विधायक गुस्से में कहते हैं आपको नहीं छोड़ना था उसको फांसी पर चढ़ा देते। एसडीओपी ने कहा कि वो लॉकडाउन में थाने में आया क्यूं। फिर विधायक गुस्से में बोले आया तो छोड़ा क्यूं, फांसी पर चढ़ा देते। आपके भतीजे पुत्र और खुद आप भी फोन करते हो। जिस पर विधायक ने कहा कि मैं नेता हूं। लोग मेरे पास आते हैं। मैं फोन क्यूं नहीं करूंगा। यह आपको देखना चाहिए कि किसे छोड़ना है या नहीं छोड़ना। आप लड़के को बंद कर सकते थे, लेकिन चांटा नहीं मार सकते। इस पर एसडीओपी ने कहा कि आप भले ही पूर्व विधायक हो, मैं आज भी आपकी इज्जत करता हूं, लेकिन आपका बेटे ऐसे व्यक्ति को छोड़ने की कह रहा था जिसका वाहन हमने पकड़ा। उस पर रजिस्ट्रेशन, बीमा कुछ भी नहीं था। मैंने कहा भी कि वाहन को कुछ देर बाद छोड़ दूंगा, लेकिन आपका बेटा जिद करने लगा कि उसे अभी छोड़ना होगा। इस तरह बात करना नागबार गुजरा।


इनका कहना……………..


मैं नियमानुसार कार्रवाई करने की बात कह रहा था। मैंने सिर्फ चांटे मारने वाली बात का विरोध किया। कुछ गलत भी नहीं कहा है। हमारे दोनों के बीच की बातचीत थी। एसडीओपी ने जानबूझर ऑडियो वायरल की है।


–सुरेश राठखेड़ा,पूर्व विधायक पोहरी।


ऑडियो सुनें…………..


Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

IPS सचिन अतुलकर को,डीआईजी ग्वालियर का अतिरिक्त प्रभार

भोपाल/मध्यप्रदेश। राज्‍य शासन के गृह विभाग ने भारतीय पुलिस सेवा के 2007 बैच के अधिकारी सचिन अतुलकर सेनानी 7 वीं वाहिनी विसबल,भोपाल को सहायक पुलिस...

बड़ी कामयाबी:अंतर्राज्यीय हाईवे डकैती गिरोह का पर्दाफाश,15 करोड़ से अधिक के मोबाइल फोन जप्त

♠पुलिस ने एक अंतर्राज्यीय लूट का बड़ा खुलासा किया है, पुलिस ने आरोपियों के पास से 15 करोड़ के मोबाइल फोन बरामद किए हैं।...

विनम्र श्रद्धांजलि:डबरा एसडीएम राघवेंद्र पांडे का कोरोना से निधन,इलाज के दौरान दम तोड़ा

बता दें कि एसडीएम श्री पांडे के निधन की यह खबर सुनते ही पूरे जिले के प्रशासनिक एवं मीडिया जगत में दुख की लहर...

हत्या या हादसा:TI ने लॉकअप में बंद युवक को गोली मारी,मौत,SP हटाए गए,परिजन को 10 लाख की आर्थिक सहायता

बता दें कि चोरी के संदेह पर सतना जिले के सिंहपुर थाना के लॉकअप में बंद एक युवक की थानेदार की सर्विस रिवॉल्वर से...

Recent Comments

error: Content is protected !!