Home News Headlines कांग्रेस नेता से अभद्रता के मामलें में TI लाइन अटैच,वहीं फर्जी मार्कशीट...

कांग्रेस नेता से अभद्रता के मामलें में TI लाइन अटैच,वहीं फर्जी मार्कशीट से नौकरी पाने वाले सिपाही पर मामला दर्ज

“बता दें कि शिकायत जब एसपी नवनीत भसीन के पास पहुंची तो उन्होंने एडिशनल एसपी स्तर के अधिकारी से जांच कराई जिसके बाद टीआई प्रशांत यादव को थाने से हटाकर पुलिस लाइन भेज दिया है”



ग्वालियर/मध्यप्रदेश……….


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व ग्वालियर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व जिला अध्यक्ष चन्द्र मोहन नागौरी से उलझना पड़ाव थाना प्रभारी प्रशांत यादव को भारी पड़ गया। एसपी नवनीत भसीन ने टीआई को निलंबित कर लाइन अटैच कर दिया है। वहीं टीआई ने आरोपों को गलत बताते हुए कार्रवाई का विरोध किया है।



क्या है पूरा मामला………….


प्राप्त जानकारी के अनुसार गांधी नगर में रहने वाले मुइनुद्दीन और उनकी बेटी रूबी खान के बीच मकान के विवाद को सुलझाने के लिए नागौरी पड़ाव थाने पहुंचे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि वहां टी आई प्रशांत यादव के सामने पहले उन्होंने अपनी बात रखनी चाही तो टीआई ने उन्हें अपने कक्ष से बाहर निकाल दिया। नागौरी ने अपना परिचय दिया फिर भी टी आई यादव ने अभद्रता की। उसके बाद वे थाने में बनी ऊर्जा डेस्क पर गए। वहां प्रभारी सबा रहमान ने भी उनसे बदसलूकी की।

श्री नागौरी ने आरोप लगाया कि सबा रहमान एकतरफा रूबी का पक्ष ले रहीं थी जब उन्होंने रूबी के 75 वर्षीय पिता की बात सुनने के लिए कहा तो वे गाली गलौज करने लगी और उल्टा उनके खिलाफ ही थाने में शिकायत दर्ज करवा दी। 


इनका कहना……….


-टी आई प्रशांत यादव ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया और उनके खिलाफ की गई कार्रवाई को अनुचित बताया है।


-कांग्रेस नेता नागौरी ने कहा कि ये अधूरी कार्रवाई है जब तक ऊर्जा डेस्क के नाम पर की जा रही गुंडागर्दी और उसकी प्रभारी को नहीं हटाया जाता उनकी लड़ाई जारी रहेगी।


फर्जी मार्कशीट से अनुकंपा नियुक्ति पाने वाले सिपाही पर मामला दर्ज………..


ग्वालियर/मप्र……….


ग्वालियर शहर की पुलिस लाइन में पदस्थ एक आरक्षक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। आरक्षक ने फर्जी अंकसूचियां लगाकर पुलिस की अनुकंपा नियुक्ति हासिल की थी। पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।


क्या है पूरा मामला……….


प्राप्त जानकारी के अनुसार एडिशनल एसपी क्राइम पंकज पांडे के मुताबिक बहोड़ापुर में रहने वाले बबलू शाह ने 2003 में पुलिस विभाग में अनुकम्पा नियुक्ति के आधार पर पुलिस आरक्षक की नौकरी हासिल की थी । आरक्षक ने भर्ती के दौरान आठवीं और हायर सेकेंडरी की मार्कशीट लगाई थी। लेकिन काफी सालों नौकरी करने के बाद किसी व्यक्ति ने इस बात की शिकायत पुलिस अधीक्षक से की थी कि बबलू शाह के द्वारा जो आठवीं क्लास और हायर  सेकेंडरी की अंकसूची लगाई हैं  वे फर्जी हैं  इस शिकायत पर जब पुलिस अधीक्षक ने जांच कराई तो पता चला कि जिस स्कूल की मार्कशीट प्रस्तुत की गई है उस नाम का कोई स्कूल ही नहीं है और साथ ही विभागों में भी इसका कोई रिकॉर्ड नहीं है जिसके बाद पुलिस अधीक्षक के आदेश पर विश्व विद्यालय थाने में आरक्षक बबलू शाह के खिलाफ 420,467 और 468 की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है पुलिस आरक्षक की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कांस्टेबल से लेकर एसआई की पदस्थापना के संबंध में,पुलिस मुख्यालय ने आदेश जारी किए

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में पुलिस मुख्यालय (PHQ) द्वारा थानों में कर्मचारियों की पदस्थापना के संबंध में आदेश जारी किए गए हैं। जिसके मुताबिक पुलिस थाने में...

खबर का असर,मुरैना शराबकांड:सीएम ने कलेक्टर और एसपी को हटाया,अब तक 20 की मौत

बता दे कि मंगलवार को नंबर वन पुलिस डॉटकॉम (No1Police.com) ने जहरीली शराब मामला ! ""एसपी पर गिर सकती है गाज"" इस खबर को...

मुरैना जहरीली शराबकांड:मृतकों के परिजनों का हंगामा,कमलनाथ का वार,SP पर गिर सकती है गाज

भोपाल/मुरैना/मध्यप्रदेश। रतलाम और उज्जैन के बाद मुरैना में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। मुरैना जिले में जहरीली...

फरार शराब तस्कर के प्रति आरक्षक की वफादारी,पकड़ने गयी अपनी पुलिस टीम पर हमला बोला

बता दें शराब माफिया जीतू चौहान शहर के पांच थानों हजीरा, बहोड़ापुर, पुरानी छावनी, महाराजपुरा और गोला का मंदिर में विभिन्न 9 आबकारी एक्ट...
error: Content is protected !!