Home News Headlines दो राज्यों के लिए सिरदर्द बना 65 हज़ार का इनामी डकैत,भोला यादव...

दो राज्यों के लिए सिरदर्द बना 65 हज़ार का इनामी डकैत,भोला यादव पुलिस के हत्थे चढ़ा

सतना/मध्यप्रदेश………..


मप्र और उप्र के सीमाइ इलाकों में चल रहे दस्यु उन्मूलन अभियान में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। गुरुवार को पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने खुलासा करते हुए बताया कि अंतरराज्जीय इनामी डकैत भोला यादव को पकड़ा गया है। इस पर दोनों राज्यों से 65 हजार रुपए का इनाम था। मझगवां और बरौंधा थाना की टीम ने इस डकैत को घेराबंदी करते हुए पड़मनिया के खोबरिन जंगल से बुधवार को पकड़ा था। इसके कब्जे से 12 बोर की देशी बंदूक, कारतूस व नकदी बरामद की गई है। अपराधों के बारे में पूछताछ के लिए डकैत भोला को अदालत में पेश करते हुए रिमांड पर लिया गया है।


दुर्दान्त दस्यु से बरामद अवैध हथियार………..



बदमाश भोला यादव के कब्जे से एक 12 बोरी की देशी बंदूक, एक बेल्ट कारतूसों का जिसमें 13 नग जिंदा कारतूस एवं 12 नग खाली खोखे लगे हैं, दो नग मोबाइल, एक फोन डायरी, व 6500 रुपए नगद जब्त किया गया। पुलिस सूत्रों का कहना है कि जो डायरी भोला के पास मिली उसमें ज्यादातर महिलाओं के नंबर लिखे हैं।


भोला का आपराधिक रिकार्ड…………


भोला यादव वर्ष 2008 में डकैत संता खैरवार निवासी भगोलन थाना फतेहगंज जिला बांदा उप्र की गैंग के हार्डकोर मेम्बर मिश्रीलाल पंडित को जमीनी विवाद के चलते हत्या कर फरार हो गया था। फरारी के दौरान भोला संता गिरोह से बचने के लिए बाबा गोंड़ निवासी बरहटा थाना मझगवां एवं राजू गोंड़ निवासी गोडरी गोडरामपुर थाना फतेहगंज जिला बांदा उप्र की गैंग मे शामिल हो गया था।


-इसने वर्ष 2011 में पारिवारिक विवाद के चलते ग्राम मोहरिया थाना फतेहगंज उप्र में अपनी बहन के ससुर लाला यादव की गोली मारकर हत्या कर दिया। वर्ष 


-2013 में ग्राम बरहटा में प्रेम प्रसंग के चलते सुल्तान सिंह गोंड़ की गोली मारकर हत्या कर दी।


-वर्ष 2013 में ही भरतपुर पडऱी में दोहरा हत्या काण्ड किया था। जिसमे हिमांचल सिंह तथा महिला हंसी यादव को गोली मारकर हत्या कर दिया था।


-इसी तरह थाना बरौंधा, मझगवां, सिंहपुर, पन्ना जिले के थाना बृजपुर एवं थाना फतेहगंज जिला बांदा में अपहरण, लूट, हत्या, हत्या का प्रयास, डकैती, रंगदारी जैसे अपराध घटित किए हैं।


-वर्ष 2014 में साथी डकैत राजू गोंड़ एवं बाबा गोंड़ के गिरफ्तार हो जाने के बाद बदमाश भोला यादव डकैत छत्रपाल यादव निवासी मटिआचुआ थाना मझगवां एवं रज्जू यादव निवासी महावीरनपुरवा थाना बरौंधा के साथ गैंग बनाकर रहने लगा। डकैत छत्रपाल यादव की मृत्यु हो जाने एवं डकैत रज्जू यादव की गिरफ्तारी हो जाने के बाद भोला डकैत गौरी यादव गैंग में शामिल होकर सक्रिय था।


-भोला के खिलाफ कुल 13 अपराध पंजीबद्ध हैं। जिसमें थाना मझगवां मे तीन, थाना बरौंधा में सात, थाना सिंहपुर में एक, थाना बृजपुर जिला पन्ना में एक अपराध, थाना फतेहगंज उप्र में एक अपराध कायम हैं। इसके खिलाफ अदालत से स्थाइ वारंट भी जारी हैं। स्थाई वारंट जारी होकर कुल 13 प्रकरणो मे फरार था।


कैसे चढ़ा पुलिस के हत्थे………..


एसपी ने बताया, बदमाश भोला यादव मौजूदा समय में डेढ़ लाख के इनामी डकैत गौरी यादव निवासी बेल्हरी थाना बरुइ जिला कर्वी उप्र की गैंग में सक्रिय था। बुधवार को मुखबिर से सूचना मिली थी कि इनामी डकैत भोला यादव अपने रिश्तेदार की शादी समारोह में शामिल होने के लिए जंगल के रास्ते कर्वी उप्र जा सकता है। सूचना की तस्दीक के लिए पुलिस टीमों ने ग्राम पड़मनिया के खोबरिन जंगल में एम्बुस लगाया। तभी जंगल के रास्ते आए भोला को पुलिस की भनक लगी तो वह अपना बैग फेंक कर बंदूक लोड करते हुए भागने लगा। पुलिस ने घेरा और ललकारते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया। डकैत भोला पर जिला सतना से 30000 रुपए, जिला पन्ना से 30000 रुपए व थाना फतेहगंज जिला बांदा उप्र से 5000 रुपए का इनाम घोषित था।


इनकी रही सराहनीय भूमिका………..


फरार डकैत भोला यादव की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी मझगवां ओपी सिंह व इनकी टीम के एएसआइ चक्रधर प्रजापति, आरक्षक विकाश सिंह, अनुज सिंह, राकेश कश्यप, सीताराम रावत, इष्टदेव दीक्षित, अर्पित त्रिवेदी, रणविजय कुमार एवं थाना प्रभारी बरौंधा निरीक्षक केएस टेकाम की टीम के आरक्षक नितीश यादव, सुरेन्द्र प्रजापति, रामसखा रावत, विपेंद्र मिश्रा की अहम भूमिका रही।

Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

लोकायुक्त ने तहसीलदार को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा

बता दे कि मध्यप्रदेश में लगातार रिश्वत के मामले सामने आ रहे है। हाल ही में सागर (Sagar) में मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड...

बड़ी कामयाबी:क्राइम ब्रांच ने 2 करोड़ 10 लाख की स्मैक के साथ,8 अंतर्राज्यीय तस्कर दबोचे

बता दें कि ये लोग उत्तर प्रदेश के इटावा और मैनपुरी से स्मैक ला रहे थे, फिलहाल मामले में पुलिस पूछताछ कर रही है,...

खुद के बुने जाल में फंसे दोनों टीआइ,कानून हाथ में लेना भारी पड़ा,एक लाइन अटैच दूसरा सस्पेंड

बता दें कि टीआई दतिया रत्नेश को नियम अनुसार कंपू थाने में शिकायत दर्ज करा आरोपी को कंपू पुलिस सौपना चाहिए था। लेकिन बिना...

बदमाशों ने दतिया में पदस्थ टीआई का मोबाइल लूटा,SP ने कंपू थाना प्रभारी को लाइन में बैठाया

ग्वालियर/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर में बदमाशों के हौंसले इतने बुलंद है कि पुलिस अफसरों को भी निशाना बनाने से नही चूक रहें हैं। दरअसल,कंपू...
error: Content is protected !!