Home News Headlines अपाहिज सास को सड़क पर छोड़कर भागी थी बहु,अब दिन में तीन...

अपाहिज सास को सड़क पर छोड़कर भागी थी बहु,अब दिन में तीन बार वृद्धा का हालचाल जानने पहुँची एसआई

इंदौर/मध्यप्रदेश…………


मध्यप्रदेश के इंदौर के थाना हीरानगर अंतर्गत अभिनंदन नगर में बहू द्वारा सड़क पर लावारिस छोड़ दी गई वृद्ध सास से मिलने के लिए एसआई मंगलवार को दिन में तीन बार उसके घर गई। वृद्धा एसआई को देखते ही खिलखिला उठी। उसने हाथ उठा कर अपने पास बुलाया। वृद्धा अब खुश है। उन्हें छोड़ने वाली बहू बोली उससे गलती हो गई, अब ध्यान रखूंगी। हीरानगर टीआई राजीवसिंह भदौरिया के मुताबिक 75 वर्षीय रेशमा बाई को बहू आशा कार के पास लावारिस छोड़ कर भाग गई थी। एसआई सुमन तिवारी, खुशबू परमार वृद्धा को थाने ले गई और देखभाल की। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आशा को ढूंढा तो पता चला वृद्धा की देखभाल न करना पड़े इसलिए छोड़ दिया था।

पुलिस द्वारा समझाइश देने पर आशा को गलती का अहसास हुआ और उसने माफी मांगी। मंगलवार को एसआई सुमन वृद्धा से मिलने घर गई। उसने कहा कि वह अब ठीक है। उसे पुलिस नहीं संभालती तो क्या होता। एसआई ने उससे कहा अब कोई परेशानी नहीं होगी। एसआई ने पड़ोसी और मकान मालिक से भी चर्चा की और कहा कि वृद्धा से मिलते रहें। उन्हें कोई परेशानी हो तो पुलिस को कॉल कर दें।


क्या था मामला………..


दरअसल आर्थिक तंगी से गुजर रही एक बहू अपनी 75 वर्षीय अपाहिज सास को सड़क पर छोड़कर भाग गई थी। वृद्धा को सड़क पर परेशान देख क्षेत्र के लोगों ने हीरानगर पुलिस को सूचना दी। थाने से एसआई खुशबू परमार और सुमन तिवारी मौके पर पहुंचीं और वृद्धा से बात की तो उन्होंने अपना नाम रेशम बाई बताया और कहा कि बहू आशा छोड़ गई है। इस पर एसआई खुशबू वृद्धा को तत्काल पुलिस वाहन में थाने ले गईं। वहां उन्हें भोजन कराया और सामान्य किया। इसके बाद मामले की छानबीन शुरू हुई।

वृद्धा की जानकारी के बाद पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी कैमरे चेक किए। एक फुटेज में उन्हें वृद्धा को गोद में ले जाती एक महिला नजर आई। फुटेज से महिला का फोटो निकालकर एसआई ने तत्काल इलाके में सक्रिय जवानों को फोटो वाट्सऐप कर महिला को तलाशने के लिए निर्देश दिए। करीब पौन घंटे की मशक्कत के बाद वृद्धा की बहू आशा (38) रघुनंदन बाग इलाके में नजर आ गई। जैसे ही पुलिस ने उसे पकड़ा तो वह बोली कि मैं ही सास को छोड़ गई थी।


आर्थिक तंगी से जूझ रही बहु ने अपनी गलती मानी………..


थाने में पूछताछ के दौरान आशा फूट-फूटकर रो पड़ी। उसने बताया- पति और मैं दोनों मजदूरी करते हैं। घर में पांच बच्चे हैं। परिवार में बच्चों के साथ सास को संभाल पाना मुश्किल भरा था। आज पति किसी काम से गांव गए थे तभी मैं सास को गोद में उठाकर बाहर छोड़ आई। बाद में हीरानगर पुलिस ने आशा को अपनी सास की केयर करने के लिए काउंसलिंग की तो रोते हुए उसने अपनी गलती मानी और सेवा करने का बोलकर सास को साथ घर ले आई।


CM और अधिकारियों ने जमकर की तारीफ………..


एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र ने दोनों एसआई को प्रशंसा पत्र देने के लिए भी कहा है। वहीं, मामला चर्चा में आने के बाद मुख्यमंत्री कमल नाथ ने दोनों महिला एसआई की तारीफ की। उन्होंने ट्वीट कर पुलिस के इस कार्य की प्रशंसा की।


Live Share Market :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बड़ी कामयाबी:अंतर्राज्यीय हाईवे डकैती गिरोह का पर्दाफाश,15 करोड़ से अधिक के मोबाइल फोन जप्त

♠पुलिस ने एक अंतर्राज्यीय लूट का बड़ा खुलासा किया है, पुलिस ने आरोपियों के पास से 15 करोड़ के मोबाइल फोन बरामद किए हैं।...

विनम्र श्रद्धांजलि:डबरा एसडीएम राघवेंद्र पांडे का कोरोना से निधन,इलाज के दौरान दम तोड़ा

बता दें कि एसडीएम श्री पांडे के निधन की यह खबर सुनते ही पूरे जिले के प्रशासनिक एवं मीडिया जगत में दुख की लहर...

हत्या या हादसा:TI ने लॉकअप में बंद युवक को गोली मारी,मौत,SP हटाए गए,परिजन को 10 लाख की आर्थिक सहायता

बता दें कि चोरी के संदेह पर सतना जिले के सिंहपुर थाना के लॉकअप में बंद एक युवक की थानेदार की सर्विस रिवॉल्वर से...

DG पुरुषोत्तम शर्मा का पत्नी से मारपीट का वीडियो वायरल,पद से हटने के बाद बयान,घरेलू मामला खुद सुलझा लूंगा

भोपाल/मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में आईपीएस पुरुषोत्तम शर्मा अपनी पत्नी की बेरहमी से...

Recent Comments

error: Content is protected !!